दुनियाभर के 10 हैरान कर देने वाले अजीबो गरीब कानून

Duniya Ke Kuch ajibo garib kanoon in hindi-नमस्कार मित्रों,आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताने जा रहे है दुनिया के अजीबोगरीब कानूनों के बारें जिन्हें जानकर आप भी अपना सिर पकड़ लेंगे.की ऐसे कानून वाले देश में पब्लिक का क्या हाल होता होगा.

कभी कभी तो इन कानूनों की वजह लोगो बहुत ही ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ता है और ये कानून उनके लिए अभिशाप साबित हो जाते है.फिर दुनिया के कुछ देशो में ऐसे कानून को बनाया गया है और पब्लिक को इन कानून का पालन करना भी जरूरी होता है नही तो उन्हें सजा दी जाती है.

हर देश अलग है और देश का अपना कानून भी है। कभी-कभी ऐसे कानून सुनने में बेहद मजाकिया भी लगते हैं और कभी-कभी सुनकर हैरानी भी होती है। इस लेख में हम आपको कुछ ऐसे ही कानूनों के बारे में बताने वाले हैं, जिनके बारे में सुनकर या तो आपको हंसी आएगी या फिर हैरानी भी हो सकती है। चलिए फिर शुरू करते हैं

duniya ke kuch ajibo gareeb kanoon


दुनिया के कुछ हैरान कर देने वाले अजीबोगरीब कानून

१.रेडियो पर गाने सुनाने के लिए कानून-कनाडा में कानून है कि यहां रेडियो पर बजने वाला हर पांचवां गाना किसी कनाडाईन सिंगर द्वारा गाया गया हो। इस नियम को  कनाडा के ऑडियो एंड टेलीविजन आयोग के द्वारा बनाया गया है।जस्टिन बीबर के फैन्स के लिए यह एक अच्छी बात है।

ajeeb kanoon
Source-www.pexels.com

२.संसद में मौत गैरकानूनी-इंग्लैंड में कानून है कि यहां संसद में किसी की मौत नहीं हो सकती। साल 2007 में इसे यूके का सबसे बेतुका कानून करार दिया गया था। लोगों ने कहा था कि इस कानून का कोई आधार नहीं है। हालांकि ये भी कहा गया था कि इस कानून के बारे में कहीं लिखित व्याख्या नहीं है।

३.टॉयलेट में फ्लश करना गैरकानूनी-ये अजीबोगरीब कानून बनाने वाला देश है स्विट्जरलैंड। अगर आप स्विट्जरलैंड में किसी अपार्टमेंट बिल्डिंग में रह रहे हों, तो यहां रात 10 बजे के बाद आप टॉयलेट में फ्लश नहीं कर सकते। चाहे वो आपका अपना घर ही क्यों न हो। सरकार इसे ध्वनि प्रदूषण मानती है।अब आप सोच सकते है की इसकी वजह से वहा के लोगो का क्या हल होता होगा.

४.हर समय मुस्कुराना जरूरी-अगर आप इटली के मिलान शहर में हैं, तो जरूरी है कि आप हर समय अपने चेहरे पर मुस्कान रखें। सिर्फ अंतिम संस्कार और अस्पताल में इससे छूट दी गई है। इसके अलावा अगर आप ये नियम नहीं मानते हैं, तो आप पर जुर्माना लगाया जा सकता है।वेसे दोस्तों ये कानून तो अच्छा है कम से कम फुले हुए चेहरे वाले तो नही मिलते कही सब मुस्कराते हुए ही मिलेंगे.

दुनिया के कुछ हैरान कर देने वाले अजीबोगरीब कानून
Source-www.pexels.com

५.बेटी से शादी-ईरान में पिता अपनी बेटी से भी शादी कर सकता है। यह कानून  साल 2013 में पास हुआ था, जिसके तहत कोई भी पिता अपनी गोद ली हुई बेटी से शादी कर सकता है, लेकिन इसके लिए शर्त ये है कि बेटी की उम्र कम से कम 13 साल होनी चाहिए।

६.नीले जींस पर प्रतिबंध-नार्थ कोरिया के तानाशाह किम जोंग की तानाशाही से तो आप वाकिफ ही होंगे। किम जोंग अपने देश में अजीबोगरीब कानून बनाने के लिए भी मशहूर हैं। बता दें कि उत्तर कोरिया में नीले रंग की जींस पर रोक है। पश्चिमी संस्कृति के प्रभाव से बचाने के लिए उत्तरी कोरिया में इसे प्रतिबंधित किया गया है।किम जोंग का मानना है की नीली जींस अमेरिका का पहनावा है इसलिए वो इसे अपने देश में बेन रखते है.

blue jeans banned in north korea
Source-www.pexels.com

७.पत्नी का जन्मदिन भूलना है अपराध-अमेरिका के समोआ द्वीप में पत्नी का जन्मदिन भूलना बड़ा अपराध माना गया है। अगर कोई अपनी पत्नी का जन्मदिन भूल जाता है तो उसे इसके लिए जेल की सजा भी हो सकती है।ये कानून महिलाओ के लिए तो काफी अच्छा है.

८.लाइट का बल्ब भी नही बदल सकते-ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया में एक अजीब ही कानून प्रचलित है। वहां बल्ब सिर्फ प्रशिक्षित इलेक्ट्रिशियन ही बदल सकता है। अगर आपके घर का बल्ब फ्यूज हो गया हो, तो उसे बदलने के लिए इलेक्ट्रिशियन को बुलाना होगा.

light blub change krna bhi crime hai
Source-www.pexels.com

९.मृतक से भी विवाह कर सकते है-फ्रांस में किसी मृतक से विवाह करना गैरकानूनी नहीं है। लेकिन अगर आप खुदा को प्यारी हो चुकी अपनी प्रेमिका से शादी करना चाहते हैं तो आपको इसका प्रमाण देना होगा कि जब वह जीवित थी, तब आप उससे प्यार करते थे.

१०.यहाँ तो मोटा होना भी अपराध है-जापान में मोटा होना गैर क़ानूनी है। हलाकि जापान वो देश है जहा से सूमो रेसलिंग आया ह। जापान के मेटाबो लॉ के अनुसार 40 के ऊपर के पुरुषों कि कमर 33.5 inches और महिलाओं की कमर 35.4 inches से ज्यादा नहीं होनी चाहिए। ये कानून जापान में अप्रैल 2008 को लागु किया गया था। जहा इस नए कमर के माप को जोड़ा गया। जिसके अनुसार 40-75 साल के बीच के लोगो को स्थानीय सरकार या एम्प्लोयी से वार्षिक चेकअप करना होगा.

Post a Comment

Previous Post Next Post